Western Times News

Latest News from Gujarat

सीमा पर रहने वाले शख्स को अमित शाह ने क्यों दिया अपना मोबाइल नंबर ?

जम्मू कश्मीर के दौरे पर पहुंचे गृहमंत्री अमित शाह रविवार को सीमा से सटे एक गांव में पहुंचे। शाह ने इस दौरान कई स्थानीय नागरिकों से मुलाकात की।

गांव में मौजूद एक ग्रामीण के घर पहुंचे अमित शाह ने उन्हें अपना नंबर दिया और कहा कि आप मुझे कभी भी फोन कर सकते हैं।  Amit Shah, who is on a three-day visit to Jammu and Kashmir, interacted with the locals living in the border areas of Jammu

अमित शाह क्श्मीर के दौरे के दौरान एक सीमा पर रहनेवाले शख्स के घर पर गए जहां उनके साथ गवर्नर भी थे, वहां चार पाई पर उसके साथ बेठ गए, उन्होने उस शख्स से बातचीत की, और उस आदमी का फोन लिया

और खूद उसके फोन से अपने फोन में मिस कोल किया , फिर पीछे खडे शख्स से पूछा, देखो भाईसाब का नाम पूछ लो, और नंबर सेव कर लो, फिर पूछा आया मेरे फोन में मिस कोल, जरा देखो. फिर कहा कभी भी फोन करना.

उन्होने कहा, जम्मू में भारत की सीमा के अंतिम गाँव मकवाल में जाकर ग्रामवासियों का हाल जाना। देश के संसाधनों पर जितना हक राजधानी में रहने वाले एक नागरिक का है उतना ही सरहद के गाँव में रहने वाले नागरिक का भी है। मोदीजी के नेतृत्व में हम बॉर्डर तक हर सुविधा व विकास पहुँचाने के लिए कटिबद्ध हैं।

एक बेठक के दौरान उन्होने कहा की, कश्मीर शुरू से ही भारत की समृद्ध विरासत का केंद्र बिंदु रहा है। सूफी संस्कृति भी उसी समृद्धता का एक भाग है, जो शांति और उदारवाद की प्रतीक है। आज उसी कड़ी में श्रीनगर में सूफी संतों से भेंट कर कश्मीर की शांति और सहअस्तित्व को पुनर्स्थापित करने के लिए एक व्यापक चर्चा की।

अमीत शाह ने माता खीर भवानी मंदिर में माँ के दर्शन किए और कहा कि,  देशभर के कश्मीरी पंडित भाईयो-बहनों की आस्था का ये एक ऐसा अटूट केंद्र है जो पूरे राष्ट्र को प्रेरणा देता है। इस पवित्र स्थल में एक अद्भुत शक्ति है जिसकी अनुभूति यहाँ आकर निश्चित रूप से होती है।

Copyright © All rights reserved. | Developed by Aneri Developers