Western Times News

Latest News from Gujarat

एलोवेरा जूस सेहत और सुंदरता के लिए लाभकारी

एलोवेरा जूस हमारी सेहत और खूबसूरती दोनों के लिए ही फायदेमंद है। एलोवेरा को आयुर्वेद की भाषा में घृतकुमारी कहा जाता है और आयुर्वेद में घृतकुमारी का प्रयोग करके अनेक रोगों के लिए औषधियां बनाई जाती हैं। एलोवेरा कई प्राकृतिक गुणों से भरपूर है। इसमें विटमिंस, मिनरल्स और ऐंटिऑक्सिडेंट्स का भंडार है। आइए, जानते हैं कि ऐलोवेरा जूस किस-किस तरह से हमें लाभ पहुंचा सकता है…

रोजाना सुबह में खाली पेट एलोवेरा जूस पीने से पाचन तंत्र मजबूत होता है। साथ ही पेट संबंधी सभी विकार दूर हो जाते हैं। अगर आपको कब्ज की शिकायत है तो आप रोजाना दो चम्मच एलोवेरा जूस पिएं। आपको जल्द सुखद परिणाम देखने को मिलेगा।

इसमें एंटी-इन्फ्लेमेटरी के गुण पाए जाते हैं, जिनसे बढ़ते वजन से मुक्ति मिलती है। अगर आप बढ़ते वजन से परेशान हैं और इससे निजात पाना चाहते हैं तो एलोवेरा जूस बेहतरीन उपाय है। रोजाना खाली पेट आधा कप एलोवेरा जूस पिएं। इससे फैट बर्न होता है, जिससे आपका वजन कम होगा।

कोरोना वायरस महामारी के दौरान इम्यून सिस्टम को मजबूत रखना बेहद जरूरी है। इसके लिए आप एलोवेरा जूस का सेवन कर सकते हैं। विशेषज्ञों की मानें तो एलोवेरा जूस इम्यून सिस्टम को मजबूत करने में मदद कर सकता है। इसके सेवन से पीएच स्तर भी सुधरता है।

सूजन कम करता है
इसमें एंटी-ऑक्सीडेंट के गुण पाए जाते हैं जो शरीर में मौजूद सूजन को कम करने में सहायक होते हैं। इसके लिए रोजाना सुबह में खाली पेट एलोवेरा जूस का सेवन करें। यह जख्म को भरने में भी मददगार होता है। इसके साथ ही रोजाना एलोवेरा जूस पीने से सिरदर्द और तनाव से भी मुक्ति मिलती है। स्किन डॉक्टर्स भी स्किन के लिए एलोवेरा जूस पीने की सलाह देते हैं।

एलोवेरा जूस लेने से पहले अपने डॉक्टर से परामर्श करें। खासतौर से तब जब आप किसी मर्ज की दवा ले रहे हो या फिर इलाज करवा रहे हों। क्योंकि एलोवेरा जूस को कुछ दवाओं के साथ लेने पर प्रतिकूल प्रतिक्रिया हो सकती है।
गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं को एलोवेरा जूस नहीं लेना चाहिए। क्योंकि यह गर्भवती महिलाओं में गर्भाशय के संकुचन को प्रोत्साहित कर सकता है, जिससे गर्भपात और जन्म दोष हो सकते हैं।

स्तनपान कराने वाली महिलाओं को भी इसे लेने से बचना चाहिए क्योंकि यह उनमें दस्त का कारण बन सकता है।
12 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए भी यह असुरक्षित माना जाता है। इसलिए बच्चों को देने से पहले चिकित्सक से सलाह लें।
एलोवेरा जूस में मौजूद एड्रेनालाइन की अत्यधिक मात्रा हृदय रोग से पीड़ित लोगों के लिए हानिकारक हो सकती है। किसी भी तरह की बीमारी होने पर डॉक्टर की सलाह और परामर्श पर ही इसका सेवन करें.

यह सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन्हें किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर नहीं लें। बीमारी या संक्रमण के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

Copyright © All rights reserved. | Developed by Aneri Developers