Western Times News

Latest News from Gujarat

ऑनलाइन प्रशिक्षण कार्यक्रम शुरू करने वाली पहली लुब्रीकेंट कंपनी बनी जीपी पेट्रोलियम्स

मुंबई,जीपी पेट्रोलियम्स लिमिटेड (जीपीपीएल), भारत की एक प्रमुख मोटर वाहन और औद्योगिक लुब्रीकेंट निर्माता, ने अपने औद्योगिक ग्राहकों, वितरकों और मोटर वाहन मैकेनिक्स के लिए ऑनलाइन प्रशिक्षण कार्यक्रम शुरू किया है. पिछले कुछ महीनों में, कंपनी ने नई तकनीक और वर्चुअल बैठकों के जरिए 10000मैन आवर का प्रशिक्षण सफलतापूर्वक प्रदान किया है और आने वाले महीनों में विस्तारित पहलुओं पर इसे और आगे बढाएगा.

जीपी पेट्रोलियम्स कंपनी मैकेनिकों के लिए वर्चुअल प्रशिक्षण लागू करने वाली पहली लुब्रीकेंट कंपनियों में से एक है, जिसने अप्रैल यानी लॉकडाउन के पहले चरण की घोषणा के साथ ही ऑनलाइन प्रशिक्षण शुरु कर दिया था. ऐसे चुनौतीपूर्ण समय के दौरान इन प्रशिक्षणों की प्रतिक्रिया और महत्व को देखते हुए, जीपी पेट्रोलियम्स ने तेजी से सिस्टम लगाने का काम किया और इन कार्यक्रमों को अपने औद्योगिक ग्राहकों और वितरकों के लिए भी बढ़ाया.

इस पहल की कल्पना सरकार के स्किल इंडिया विजन के तहत की गई थी. 9 अलग-अलग राज्यों के 26 शहरों के ग्राहकों, वितरकों और मैकेनिकों को ऑनलाइन प्रशिक्षण कार्यक्रम की सुविधा के लिए एमएस टीम्स डाउनलोड करने के लिए शिक्षित और प्रोत्साहित किया गया, जो कि लुब्रीकेंट के मूल सिद्धांतों पर था. कंपनी “ट्रेन द ट्रेनर” अवधारणा का पालन करके तेजी से इस पहल को आगे बढ़ा सकती है, जिसमें कंपनी ने पहले के प्रशिक्षकों की विशेषज्ञता का उपयोग करेगी. कार्यक्रम उनकी स्थानीय भाषा में छोटे बैचों में आयोजित किए जाते हैं, इससे दर्शकों को संदेश भेजने में सफलता मिलती है.

इस पहल पर बोलते हुए, श्री प्रशांत अचार, सीईओ, जीपी पेट्रोलियम्स लिमिटेड ने कहा, “हम अपनी टीम द्वारा किए गए इस शानदार पहल से बेहद खुश हैं. हमने कस्टमर सेंटरिसिटी, कैशफ्लो थ्रस्ट, कम्यूनिकेशन और कैपेबिलिटी बिल्डिंग पर केंद्रित 4 सी एजेंडा के निर्माण पर जोर दिया. यह काम तत्काल तब शुरु कर दिया गया, जब देश में लॉकडाउन की घोषणा हुई. लेकिन यह स्वाभाविक है कि हमने इस अभिनव दृष्टिकोण को अपने सहयोगियों और प्रभावितों तक पहुंचाने में कोई कसर नहीं छोड़ी. मैं परिणाम देखकर खुश हूं क्योंकि उन्होंने इस चुनौतीपूर्ण समय के दौरान कनेक्ट करने के लिए अपने मैकेनिक बिरादरी के लिए एक अनूठी और अभिनव पहल की है. इसे भारी प्रतिक्रिया मिली है, जो इस तरह की और पहल की आवश्यकता को साबित करती है. एक आभासी बैठक का हिस्सा होना सभी के लिए एक रोमांचकारी अनुभव था. दूर बैठ कर क्षमता निर्माण का यह तरीका अब जीवन का एक तरीका बन गया है!”

सरकार के आत्मनिर्भर भारत अभियान के समर्थन के तहत, कंपनी ने ऐसे कई मैकेनिकों की पहचान की, जो देश के विभिन्न ग्रामीण हिस्सों में दैनिक वेतन भोगी हैं, जो व्यापार के नुकसान के कारण कई कठिनाइयों का सामना कर रहे हैं. कंपनी ऐसे मैकेनिकों के पास पहुंची और उन्हें आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति करने के साथ-साथ इंजन ऑयल की आपूर्ति करने में मदद की. इस पहल ने इन मैकेनिकों को उनकी आजीविका के लिए कुछ आय पैदा करने के साथ-साथ आपूर्ति बनाए रखने में भी काफी लाभान्वित किया है. इस तरह से घरेलू उत्पादन सुनिश्चित करने के लिए देश में लुब्रीकेंट उत्पादों की मांग को पूरा करना जारी रहा.

जीपी पेट्रोलियम्स समाज को वापस देने की अपनी यात्रा जारी रखे हुए है. कंपनी ने 2000 मैकेनिकों के लिए सीएसआर अभियान के माध्यम से,लॉकडाउन के पहले, हेल्थ चेक-अप कैंप्स फॉर ओरल कैंसर का आयोजन किया था. ओईएम के साथ मिल कर आने वाले महीनों में बीएस 6, इंजन डायग्नोस्टिक के लिए मैकेनिक ट्रेनिंग लेने की भी योजना है. 1973 के बाद से विश्वसनीय- ब्रांड आईपीओएल पहले से ही लुब्रीकेंट समाधान प्रदान कर रहा है. ब्रांड को ईमानदार मूल्यों पर गुणवत्ता वाले लुब्रीकेंट प्रदान करने के लिए जाना जाता है.

Copyright © All rights reserved. | Developed by Aneri Developers