Western Times News

Latest News from Gujarat

भारत का टेस्ट क्रिकेट में सबसे शर्मनाक प्रदर्शन

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच एडिलेड में खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच के तीसरे दिन टीम इंडिया की बल्लेबाजी ऑस्ट्रेलिया के गेंदबाजों के सामने ताश के पत्तों की तरह बिखर गई। भारत ने अपनी दूसरी पारी मे 9 विकेट खोकर सिर्फ 36 रन बनाए, शमी चोट लगने के चलते बल्लेबाजी नहीं कर सके। टेस्ट क्रिकेट में यह भारत का अबतक का सबसे खराब प्रदर्शन है। इससे पहले साल 1974 में इंग्लैंड के खिलाफ भारत की टीम 42 रनों पर ऑलआउट हुई थी।

तीसरे दिन की शुरुआत के लिए भारत की तरफ से जसप्रीत बुमराह और मयंक अग्रवाल मैदान पर उतरे थे, लेकिन पैट कमिंस ने बुमराह (2) को बेहद जल्द पवेलियन भेजकर ऑस्ट्रेलिया को दिन की पहली सफलता दिलाई। इसके बाद कमिंस ने इसके बाद कमिंस ने चेतेश्वर पुजारा (0) और अजिंक्य रहाणे (0) को भी सेट होने का कोई मौका नहीं दिया।

वहीं, दूसरे छोर से जोश हेजलवुड ने मयंक अग्रवाल (9) को चलता किया, जबकि पैट कमिंस ने भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली (4) को भी सस्ते में चलता किया। ऋद्धिमान साहा (4) और हनुमा विहारी (8) भी बल्ले से कुछ खास कमाल नहीं दिखा सका और भारत की टीम लगातार अंतराल पर विकेट गंवाती चली गई। टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में यह भारत का सबसे कम स्कोर है, इससे पहले भारत की टीम 1974 में इंग्लैंड के खिलाफ 42 रनों पर ऑलआउट हुई थी।

ऑस्ट्रेलिया की तरफ से जोश हेजलवुड ने पांच और पैट कमिंस ने चार विकेट अपने नाम की। भारत की तरफ से आखिरी बल्लेबाज मोहम्मद शमी चोटिल होने के चलते बल्लेबाजी नहीं कर सके। भारत की टीम ने इस डे-नाइट टेस्ट मुकाबले में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 244 रन बनाए थे, जिसके जवाब में ऑस्ट्रेलिया की टीम पहली पारी में 191 रन बनाकर ऑलआउट हो गई थी। गेंदबाजी में भारत की तरफ से रविचंद्रन अश्विन ने चार, उमेश यादव ने तीन और जसप्रीत बुमराह ने दो विकेट अपने नाम की थी।

Copyright © All rights reserved. | Developed by Aneri Developers