Western Times News

Latest News from Gujarat

ट्विटर ने एक साथ सस्पेंड किए 70000 अकाउंट

नई दिल्ली : सोशल मीडिया प्लेटफाॅर्म विचार व्यक्त करने का सबसे आसान और बेहतरीन तरीका माना जाता है। लेकिन कई बार इसका इस्तेमाल गलत तरीके से किए जाने के कारण परेशानी का भी सामना करना पड़ सकता है। ऐसा हाल ही में अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के साथ हुआ। वांशिगटन में पिछले हफ्ते हुई हिंसा के बाद Twitter ने डोनाल्ड ट्रंप के आधिकारिक Twitter अकाउंट को बंद कर दिया। इसके साथ ही कंपनी ने एक साथ लगभग 70,000 अकाउंट को सस्पेंड किया है।

70,000 अकाउंट डिलीट करने की वजह –एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार Twitter ने एक साथ 70,000 अकाउंट को सस्पेंड कर दिया है और इन अकाउंट को QAnon सामग्री को शेयर करने के कारण निलंबित किया गया। पिछले सप्ताह वाशिंगटन में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के समर्थकों ने अमेरिकी कैपिटल में तूफान ला दिया। इसके कारण हुई हिंसा के बाद कुछ यूजर्स QAnon सामग्री को Twitter पर शेयर कर रहे थे जिसके बाद ट्विटर ने उन सभी यूजर्स के अकाउंट को सस्पेंड कर दिया है।

Twitter ने अपने ब्लाॅग के माध्यम से जानकारी दी है कि ‘वाशिंगटन, डिसी में हिंसक घटनाओं और नुकसान के जोखिर में वृद्धि को देखते हुए हमने स्थायी तौर पर हजारों अकाउंट को निलंबित करना शुरू कर दिया है। जो कि मुख्य रूप ये QAnon सामग्री को शेयर करने के लिए समर्पित थे।’ इसके साथ ही कंपनी ने यह भी कहा कि ‘ये अकाउंट बड़े पैमाने पर हानिकारक QAnon से जु़ड़ी सामग्री को शेयर करने में लगे हुए थे।’

डोनाल्ड ट्रंप का ट्विटर अकाउंट बंद करने के बाद स्पष्ट किया कि इस अकाउंट को स्थायी रूप से हिंसा भड़काने के जोखिम को देखते हुए बंद किया गया है। अगर ट्विटर नियमों का उल्लंघन किया जाएगा तो आगे भी ऐसी कार्रवाई की जाएगी। इतना ही नहीं, ट्विटर के बाद ट्रंप के Facebook और Instagram अकाउंट को बंद कर दिया गया है। ट्रंप नवनिर्वाचित राष्ट्रपति बाइडन के शपथ ग्रहण करने तक अपने Facebook और Instagram अकाउंट का उपयोग नहीं कर सकेंगे।

 

Copyright © All rights reserved. | Developed by Aneri Developers