Western Times News

Latest News from Gujarat

USA: राष्ट्रपति ट्रंप के लिए व्हाइट हाउस के दरवाजे बंद हुए

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनोल्ड ट्रंप की मुश्किलें बढ़ने वाली है. ट्रंप के खिलाफ महाभियोग के लिए कार्यवाही शुरू कर दी है. डोनाल्ड ट्रंप अमेरिका के इतिहास में पहले ऐसे राष्ट्रपति बन गए हैं जिनके खिलाफ दो बार महाभियोग चलाया गया. प्रतिनिधि सभा ने ट्रंप के खिलाफ महाभियोग प्रस्ताव पर अपनी मुहर लगा दी है. Today, in a bipartisan way, the House demonstrated that no one is above the law. Not even the president of the United States: US House Speaker Nancy Pelosi after impeachment of President Donald Trump

बता दें कि सदन में डोनोल्ड ट्रंप के उपर महाभियोग चलाने के लिए मतदान हुआ. इसमें महाअभियोग चलाने के पक्ष में 232 वोट और विपक्ष में 197 वोट पड़े. दिलचस्प बात यह है कि दस रिपब्लिकन सांसदों ने भी महाभियोग के पक्ष में मतदान किया. मालूम हो 215 डेमोक्रेट्स सांसद और 10 रिपब्लिकन सांसदों ने ट्रंप के खिलाफ महाभियोग का समर्थन किया है. जानकारी के मुताबिक 19 जनवरी को सदन में महाभियोग का प्रस्ताव लाया जायेगा.

वहीं राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के महाभियोग के बाद अमेरिकी सदन की अध्यक्ष नैन्सी पेलोसी ने दो टूक कहा कि आज, द्विदलीय तरीके से सदन ने प्रदर्शित किया कि कोई भी कानून से ऊपर नहीं है, अमेरिका का राष्ट्रपति भी नहीं. राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने एक वीडियो संदेश में कहा कि हमने राजनीतिक हिंसा और बहुत से दंगे देखे हैं, इसे रोकना होगा.

चाहे आप राइट या लेफ्ट पर हों, डेमोक्रेट या रिपब्लिकन हों, हिंसा का कोई औचित्य नहीं है. उन्होंने आगे कि अमेरिका कानून के हिसाब से चलने वाला देश है, जो लोग पिछले सप्ताह हमलों में शामिल थें उनपर कार्रवाई होगी.

बता दें कि पिछले 6 जनवरी को ट्रम्प समर्थकों ने वाशिंगटन में हिंसा की थी. ट्र्म्प समर्थकों ने अमेरिकी संसद का घेराव किया था. इस हिंसा में 6 लोगों की जान भी गयी थी. राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प पर ये आरोप लगा था कि इस हिंसा को भड़काने के पीछे उनका हाथ है.

Copyright © All rights reserved. | Developed by Aneri Developers