Western Times News

Latest News from Gujarat

HFCL ने 31 दिसंबर को समाप्त Q3 और 9 माह के वित्तीय परिणाम घोषित किए

क्यू3एफवाय21 में समेकित राजस्व सालाना आधार पर 49.7 प्रतिशत की वृद्धि के साथ रू. 1,277.48 करोड़ पर, पीएटी में 86.7 प्रतिशत की बढ़ोतरी, रू. 85.11 करोड़ पर पहुंचा

नई दिल्ली, हाई-एंड टेलीकाम इक्विपमेंट, आप्टिकल फाइबर और आप्टिकल फाइबर केबल का निर्माण करने वाली कंपनी और दूरसंचार सेवा प्रदाताओं, रेलवे, रक्षा और स्मार्ट शहरों और निगरानी परियोजनाओं के लिए संचार नेटवर्क बनाने वाले भारत के प्रमुख टैक्नोलाॅजी एंटरप्राइज एचएफसीएल ने 31 दिसंबर, 2020 को समाप्त तीसरी तिमाही और 9 महीनों के लिए गैरलेखापरीक्षित वित्तीय परिणाम घोषित कर दिए हैं।

 

31 दिसंबर, 2020 को समाप्त हुए नौ महीनों के लिए, कंपनी ने रू. 3,031.56 करोड़ का समेकित राजस्व,     रू. 397.94 करोड़ रुपए का ईबीआईडीटीए, रू. 218.62 करोड़ का पीबीटी और रू. 159.77 करोड़ का पीएटी रिपोर्ट किया है।

स्टैंडअलोन आधार पर, कंपनी का तिमाही राजस्व रू. 1,188.89 करोड़, ईबीआईडीटीए रू. 149.28 करोड़, पीबीटी रू.  97.29 करोड़, टैक्स रू. 22.25 करोड़ और पीएटी रू. 75.04 करोड़ रहा।

31 दिसंबर, 2020 को समाप्त हुए नौ महीनों के लिए स्टैंडअलोन आधार पर कंपनी ने रू. 2,828.93 करोड़ का राजस्व, रू. 336.68 करोड़ का ईबीआईडीटीए, रू. 186.62 करोड़ का पीबीटी, रू. 46.26 करोड़ का टैक्स और रू. 140.36 करोड़ का राजस्व बताया।

कंपनी की परफाॅर्मेंस के बारे में टिप्पणी करते हुए एचएफसीएल के मैनेजिंग डायरेक्टर महेन्द्र नाहटा कहते हैं, ‘‘हम अपने निरंतर प्रयासों के साथ लगातार विकास की राह पर आगे बढ़ते हुए खुशी का अनुभव कर रहे हैं, जैसा कि टाॅपलाइन ग्रोथ में तेजी और निरंतर मार्जिन और लाभप्रदता में सुधार से भी नजर आता है।

हमारी टीम के अनुसंधान और विकास से संबंधित निरंतर प्रयासों, महामारी की चुनौतियों के बीच विकास को आगे बढ़ाने के साहस और हमारे ग्राहकों के ठोस विश्वास के कारण हम कामयाबी को संभव बना सके हैं। हमारे पास आकर्षक योजनाओं के साथ  रू. 7,313 करोड़ की एक मजबूत ऑर्डरबुक है, और हम दूरसंचार, रेलवे और रक्षा जैसे उद्योगों में अपने 100 प्रतिशत स्वदेशी रूप से डिजाइन और विकसित उत्पादों के लिए अच्छे अवसर देख रहे हैं।’’

हमारा दृष्टिकोण बहुत ही आशावादी है, क्योंकि हम देख रहे हैं कि ऑप्टिकल फाइबर केबल और एफटीटीएच की डिमांड भारत में ही नहीं, बल्कि निर्यात के लिहाज से भी बढ़ रही है। भारतनेट के संयोजन के रूप में पीएम-वानी जैसी ट्रान्सफॉर्मल परियोजनाएं, और जल्द ही 5जी की शुरुआत होने से निश्चित तौर पर कंपनी की संभावनाओं को काफी बढ़ावा मिलेगा।

क्यू3एफवाय21 में हैदराबाद में हमारी नवीनतम एफटीटीएच सुविधा शुरू होने के साथ, हम देश में सबसे बड़े एफटीटीएच केबल निर्माता बन गए हैं और वर्तमान में, हम अगली कुछ तिमाहियों में इस क्षमता का और विस्तार करने की तैयारी कर रहे हैं। हमारे उत्पाद पोर्टफोलियो के विस्तार और हमारी मेड इन इंडिया आॅफरिंग्स के निर्यात में वृद्धि पर ध्यान केंद्रित करने के साथ, हम निरंतर आगे बढ़ते हुए विकास की गति को बनाए रखने के बारे में उत्साहित हैं।’’

दूरसंचार उत्पादों के लिए कंपनी भारत को अगले नवाचार और विनिर्माण केंद्र के रूप में देखती है। देश में जल्द ही शुरू होने वाली 5जी सुविधा के साथ एचएफसीएल भारत और विदेशों में अगली पीढ़ी की संचार संबंधी जरूरतों को पूरा करने के लिए पूरी तरह तैयार है।

Copyright © All rights reserved. | Developed by Aneri Developers